आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में जहां लोग एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ और काम के बोझ के कारण डिप्रेशन का शिकार होते जा रहे हैं। जिसके कारण अनेकों बीमारियां भी बढ़ती जा रही है। उन्ही में से एक सेक्सुअल वीकनेस अर्थात तनाव की कमी का होना भी है। फास्ट फूड का बढ़ता चलन भी इस बीमारी का मुख्य कारण है।

ऐसे में व्यक्ति जो पहले से ही डिप्रेशन में है इस बीमारी की वजह से और अधिक डिप्रेशन में चला जाता है। समझ ही नहीं पाता कि क्या करें, क्या ना करे। ऐसे सभी व्यक्तियों के लिए जो किसी भी प्रकार की यौन कमजोरी से परेशान है। उनके सबके लिए मैं आज एक आयुर्वेदिक औषधि ( विन अप कैप्सूल ) के बारे में जानकारी लेकर आया हूं जो पूर्णता आयुर्वेदिक और बहुत ही लाभदायक है।

उस औषधि का नाम है विन अप कैप्सूल, तो आइए जानते हैं विन अप कैप्सूल के फायदे, नुकसान और सेवन विधि के बारे में।

विन अप कैप्सूल के मुख्य घटक

1- अश्वगंधा (Withania Somnifera) – 75mg.

2- शतावर (Asparagus Racemosus) – 75mg.

3- अकरकरा (Akarkara) – 75mg.

4- ऑर्किस मस्कुला (Orchis Muscula) – 75mg.

5- मिरिस्टिका सुगंध (Myristica Fragrance) – 55mg.

6- मुकुना प्रुरिटा (Mucuna Prurita) – 75mg.

7- मुकुन प्रुरिटा (Mucun Prurita) – 50mg.

8 – क्रोकस सैटिवस (Crocus Sativus) – 01mg.

9- मकरध्वज (Makardhwaj) – 05mg.

10- लौह भस्म (Lauh Bhasma) – 05mg.

11- अभ्रक भस्म (Abhrak Bhasma) – 05mg.

12- त्रिवंग भस्म (Trivang Bhasma) – 04mg.

13- शिलाजीत (Sudha Shilajit) – 50mg.

विन अप कैप्सूल के फायदे

ऐसे सभी व्यक्ति जो तनाव की कमी तथा अर्थात इंद्री में ढीलेपन से परेशान है उन्हें यह कैप्सूल अवश्य लेना चाहिए।

ऐसे सभी पुरुष जो नसों में कमजोरी और जोश की कमी की समस्या से परेशान है। उनके लिए यह एक रामबाण औषधि है। नसों की कमजोरी के लिए साथ में विन अप तेल की मालिश करें।

जिन व्यक्तियों को तनाव में कमी अर्थात जोश में कमी के साथ-साथ संभोग करने का समय बहुत कम लगता है ऐसी सभी पुरुष विन अप कैप्सूल का सेवन टाइम ऑन कैप्सूल के साथ करें।

जिन व्यक्तियों को पेशाब में जलन या इंफेक्शन की समस्या है। वे सभी पुरुष विन अप कैप्सूल का सेवन गोक्षुरादि गूगल के साथ करें।

विन अप कैप्सूल के नुकसान

यह पूर्णता आयुर्वेदिक औषधि है जो कि बिना डॉक्टर की पर्ची के बाजार में आसानी से उपलब्ध है।

इसे आप अमेजॉन से ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

विन अप कैप्सूल की सेवन विधि

1-2 कैप्सूल सुबह शाम या उचित अनुपान में लेने से यह आश्चर्यजनक रूप से फायदा करता है।

नोट– अपने नजदीकी चिकित्सक से परामर्श अवश्य कर लें।

या आप चाहे तो कंपनी के नंबरों पर फोन करके भी इसके बारे में पूरी जानकारी ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *